Navratri 2021: नवरात्र में आलू ही नहीं बनाएं ये टेस्टी कढ़ी, जानें रेसिपी

Must Try

यह एक बहुत आसानी से और जल्दी से बनने वाली कढ़ी है और इसको बनाने में आपको केवल 15 मिनट ही लगने वाले हैं। बता दें कि यह व्रत के लिए खास कढ़ी है और इसका मजा आप नवरात्रि के व्रत में ले सकते हैं। नियमित कढ़ी में प्रयोग होने वाले बेसन की जगह हम यहां पर चौलाई के आटे का प्रयोग करेंगे। इस कढ़ी को आप समा पुलाओ, कुट्टू की खिचड़ी, कुट्टू का पराठा या चौलाई के परांठा आदि के साथ खा सकते हैं। यह राजगिरा ( चौलाई ) से बनने वाली कढ़ी व्रत के लिए बहुत बढ़िया रहती है क्योंकि यह आसानी से पच जाती है और आपको एक ठंडक भी प्रदान करती है। व्रत के लिए आप व्रत की दही अर्बी और व्रत के दही आलू जैसी रेसिपी भी ट्राई कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं कैसे आप इस कढ़ी को बना सकते हैं।

इंग्रेडिएंट्स

  • एक कप दही
  • 3 बड़े चम्मच राजगिरा आटा
  • आधा चम्मच जीरा
  • एक चम्मच अदरक और मिर्च का पेस्ट
  • आधा कप पानी
  • आधा चम्मच चीनी
  • 2 चम्मच घी
  • एक से दो चम्मच कटा हुआ धनिया
  • सेंधा नमक

पकौड़ी की विधि

काले कुट्टू या धुले कुट्टू का आटा लें। गाढ़ा घोल बनाकर अच्छी प्रकार से फेटें। फिर कढ़ाई में घी गर्म करें और उसमें छोटी-छोटी पकौड़ी उतारें (ठीक उसी प्रकार जैसे बेसन के घोल की पकौड़ी या बनाई जाती है)। पानी में भिगोयें।

घोल बनाने की विधि

  • एक मिक्सिंग बाउल में दही लें और उसे अच्छे से फेंट लें।
  • अब इसमें राजगिरा का आटा एड करें, आप चाहें तो उसकी जगह कुट्टू का या सिंघाड़े का आटा भी एड कर सकते है ।
  • इन दोनों चीजों को अच्छे से मिक्स कर लें और मिक्स करने के बाद इसमें आधा कप पानी मिलाएं।
  • ध्यान रखें कि इस मिश्रण में कोई लंप न बने हों।
  • एक पैन में दो चम्मच घी को गर्म कर लें और उसमें आधा चम्मच जीरा मिलाएं और इसे तब तक चलाएं जब तक जीरे का रंग न बदलने लगे।
  • इसके बाद इसमें अदरक और मिर्च का पेस्ट एड कर दें।
  • फ्लेम को कम कर दें और फिर उसमे दही एड करें। अब इसमें सेंधा नमक मिलाएं।
  • आधा चम्मच चीनी या अपने स्वाद अनुसार चीनी मिलाएं।
  • अब बीच बीच में कढ़ी को चलाते रहें। कुछ देर बाद भी हुई पकौड़ियों को इस घोल में डाल दें और इसे थिक होने तक गैस पर रखें।
  • अब इसे गार्निश करने के लिए ऊपर से कटी हुई धनिया की पत्तियां डालें और गर्म गर्म कढ़ी का मजा लें।

Read More: Chaitra Navratri 2021: नवरात्री में आलू टिक्की की जगह, ट्राई करें ये व्रत वाली पेटीस

आप इस कढ़ी का लुत्फ कुट्टू के परांठे या राजगिरा की पूरी के साथ ले सकते हैं। चाहे तो इस गर्मा गर्म कढ़ी को समा पुलाव या समा खिचड़ी के साथ भी खा सकते हैं। यह कढ़ी जोकि हल्के हल्के फ्लेवर के साथ बनी है, खाने में आपको बहुत स्वादिष्ट लगेगी और यह बिना मसालों की है इसलिए आपके स्वास्थ्य के साथ भी किसी प्रकार का खिलवाड़ नहीं करेगी।

नोट- आप चाहे तो कुट्टू की पकोड़ियों की जगह उबला हुआ आलू भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

Recommended Video:

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest Recipes

- Advertisement -spot_img

More Recipes Like This

- Advertisement -spot_img