Bisleri के मालिक का कभी पानी बेचने पर लोगों ने उड़ाया था मज़ाक, और आज 1560 करोड़ के कंपनी के मालिक

Must Try

सन 1921 में शुरू हुई बिसलेरी की कंपनी आज बड़ी-बड़ी कंपनियों में शुमार की जाती है, इस कंपनी की कहानी जितनी रोचक और दिलचस्प है, उतनी ही संघर्ष भरी है. कंपनी की शुरुआत एक इटालियन बिजनेसमैन Felice Bisleri ने की थी, आपको जानकर आश्चर्य होगा कि यह कंपनी पहले मलेरिया के इलाज के लिए दवा बनाने का काम करती थी, इसी दौरान बिसलेरी के मालिक के निधन के बाद यह कंपनी रोजिज नामक आदमी ने अपने नाम कर ली. जिस समय डॉक्टर रोजिज़ ने यह कंपनी खरीदी उस समय यह इस कंपनी का शुरुआती दौर था, और धीरे-धीरे अपने संघर्ष की बदौलत रोजिज़ मेहनत करते गए और इस कंपनी ने भारत में धीरे-धीरे अपने व्यापार को बड़ा कर लिया.

उस दौरान बिसलेरी कंपनी की एक ब्रांच मुंबई में भी स्थापित की गई थी, यह कहना गलत नहीं होगा कि भारत में ब्रांडेड पानी बेचने की पहल डॉक्टर रोजिज़ के द्वारा ही शुरू की गई थी, जिस समय रोज़िज ने यह काम पूरी तरह अपना लिया तो लोगों ने उनका खूब मजाक उड़ाया था, लेकिन रोजिज़ ने उन सब को नजरअंदाज करते हुए, अपने काम पर ध्यान दिया और धीरे-धीरे यह कंपनी का टर्नओवर बढ़ने लगा और मुंबई में होने के कारण इस कंपनी के नेटवर्थ में काफी बढ़ोतरी आई. और कंपनी के ग्रोथ का एक बड़ा कारण यह भी था कि मुंबई के पानी की क्वालिटी काफी खराब होने के कारण लोग यह पानी खरीदने के लिए मजबूर थे.

धीरे-धीरे यह कंपनी अपने व्यापार को पूरे देश में फैलाती गई और देखते ही देखते ही ये पानी बड़े-बड़े फाइव स्टार रेस्टोरेंट में अच्छी कीमत पर बिकने लगा, और इसकी पहुंच आम लोगों तक भी काफी हो गई थी. लेकिन इस दौरान एक ऐसा समय आया जब बिसलेरी कंपनी के मालिक इसे बेचना चाहते थे, और उस दौरान इस कंपनी को पारले के चौहान ब्रदर्स ने उस समय 4 लाख की कीमत देकर खरीद लिया था.

इसके बाद चौहान ब्रदर्स ने इस कंपनी की कमान संभाली और कुछ दिन बाद ही इस कंपनी के ही सोडा, और सॉफ्ट ड्रिंक भी लांच की, इसके बाद पारले को इसमें और कमी महसूस हुई तो उन्होंने जगह-जगह रेलवे स्टेशन बस स्टेशन पर भी अपने कर्मचारियों को काम पर लगा दिया.

और अब ऐसा समय आ चुका है कि बिसलेरी कंपनी रोजाना करीब 2000 करोड़ का पानी बेचती है. वर्तमान समय की बात करें तो बिसलेरी की पानी की मार्केट में 60% हिस्सेदारी है. 125 प्लांट खड़ी कर चुकी यह कंपनी आज लोगों के दिलों पर छाई रहती है. और टीवी विज्ञापनों और अखबार में आप एक स्लोगन सुनते ही रहते होंगे, हर पानी की बोतल बिसलेरी नहीं होती” यह स्लोगन एक आम स्लोगन हो चुका है. एक प्लांट से शुरू की गई कंपनी आज देश भर में 5000 से अधिक डिसटीब्यूटर्स के द्वारा देश के कोने-कोने तक पहुंच रही है, और दिन प्रतिदिन बिसलेरी अपनी पहचान मार्केट में बढ़ाता ही जा रहा है. वर्तमान समय में बिसलेरी कंपनी के चेयरमैन की बात करें तो उनका नाम रमेश चौहान है, 70 वर्षीय चौहान इस काम को पूरी लगन और मेहनत के साथ आगे बढ़ा रहे हैं.

बता दें, कि यह कंपनी वर्तमान समय में विदेशों में भी व्यापार कर रही है और साल 2003 में इसने यूरोप में भी अपना बिजनेस खड़ा किया था. एक इटालियन बिजनेसमैन के द्वारा शुरू की गई है, कंपनी आज 1560 करोड़ की कंपनी बन चुकी है, और समझदार जानते हैं कि हर बोतल बिसलेरी नहीं होती.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest Recipes

- Advertisement -spot_img

More Recipes Like This

- Advertisement -spot_img